महिलाएं आटा गूंथने के बाद उस पर उंगलियों से निशान क्यों बनाती हैं

0
57

हेल्लो दोस्तों आपने अक्सर देखा होगा खासकर महिलाएं रोटी पकाने से पहले जब आटा गूंथतीं हैं तो अंत में उस पर उंगलियों से कुछ निशान बना देती हैं. और फिर कई महिलाएं अपने हाथ में लगा हुआ आटा, गूथे हुए आटे पर चिपकाती हैं. क्या आपको पता है..? महिलाएं आटा गूंथने के बाद उस पर उंगलियों से निशान क्यों बनाती हैं, मेरी दादीजी ने बचपन में बताई थी ये बात.. Aata Goonthane Ke Baad Ungaliyon Ke Nishaan

ये भी पढ़िए : इतने गुण होने के बाद भी आखिर क्यों ब्राह्मण, जैन समुदाय नहीं खाते लहसुन

दरअसल इसके पीछे कोई वैज्ञानिक कारण नहीं है बल्कि हमारी एक प्राचीन मान्यता है. हिंदुओं में पूर्वजों एवं मृत आत्माओं को संतुष्ट करने के लिए पिंड दान की विधि बताई गई है. पिंडदान के लिए जब आटे की लोई (जिसे पिंड कहते हैं) बनाई जाती है तो वह बिल्कुल गोल होती है. इसका आशय होता है कि यह गूंथा हुआ आटा पूर्वजों के लिए है. मान्यता है कि इस तरह का आटा देखकर पूर्वज किसी भी रूप में आते हैं और उसे ग्रहण करते हैं.

Aata Goonthane Ke Baad Ungaliyon Ke Nishaan
Aata Goonthane Ke Baad Ungaliyon Ke Nishaan

यही कारण है कि जब मनुष्यों के ग्रहण करने के लिए आटा गूंथा जाता है तो उसमें उंगलियों के निशान बना दिए जाते हैं. यह निशान इस बात का प्रतीक होते हैं कि रखा हुआ आटा, लोई या पिंड पूर्वजों के लिए नहीं बल्कि इंसानों के लिए है.

ये भी पढ़िए : जानिए आखिर क्यों घर में नहीं रखना चाहिए शिवलिंग

प्राचीन काल में महिलाएं प्रतिदिन एक लोई पूर्वजों के लिए, दूसरी गाय के लिए, तीसरी कुत्ते के लिए निकालती थी. घर में अनेक महिलाएं होती थी उंगलियों का निशान लगाने से पता चल जाता था कि इन्सानों के लिए गूँधा हुआ आटा कौनसा है.

ये भी पढ़िए : क्या आपको मालूम है विवाह के सात फेरों के साथ कौन से सात वचन लिए जाते हैं ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here