अगर कोई बच्चा ऐसे बैठा दिखाई दे तो तुरंत उसके पैरों को सीधा कर दीजिए

0
60

बच्चों की देखभाल करना हर पेरेंट्स के लिए काफी मुश्किल भरा काम होता है। पेरेंट्स को बच्चों की हर बात का ख्याल रखना होता है और उसे समझना होता है, क्योंकि वह खुद से कुछ बोलने और करने में सक्षम नहीं होता है। लेकिन कई बार कुछ ऐसी छोटी-छोटी चीजें होती हैं जिनसे पेरेंट्स भी अंजान होते हैं, जिसका बुरा असर बच्चे पर दिखाई देता है। वे उसके रख रखाव, साफ सफाई आदि का पूरा ख्याल रखते हैं। ऐसे में बच्चा जैसे-जैसे अपने शारीरिक और मानसिक विकास की ओर बढ़ता है, उस वक्त कई ऐसी बातें होती हैं जो पेरेंट्स अनजाने में नजरंदाज कर जाते हैं। Baby Sitting in W Position

इस तरह के बैठने को W सिटींग कहा जाता है। इसमें बच्चे अपने पैरों को इस तरह मोड़कर बैठते हैं कि उनके पैर व के आकार की तरह दिखते हैं। कई बच्चों को शायद आपने इस तरह बैठा हुआ देखा भी होगा, जिसे आप और कई पेरेंट्स अक्सर नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन आपको बता दे कि इस तरह बैठना बच्चों की सेहत के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकता है।

Read : पेट में कीड़े होने का कारण,लक्षण और अचूक उपचार

खतरनाक है ‘W सिटिंग’?

ये तो आप समझ ही गए होंगे कि ‘W सिटिंग’ में बैठने से बच्चों पर बहुत बुरा असर पड़ता है। तो चलिए आपको बता दें कि वाकई इस तरह से बैठना आपके बच्चों के लिए कितना खतरनाक होता है। दरअसल, इस तरह से बैठने की वजह से बच्चों के हिप्स, घुटनों और एड़ियों पर काफी स्ट्रेस पड़ता है। इसके अलावा, जो बच्चे इस तरह बैठते हैं, उनमें बाद के दिनों में रीढ़ से संबंधित कई तरह की बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। देखा जाता है कि इस तरह से बैठने वाले बच्चों में बाद में हड्डियों की बीमारियां ज्यादा होती है। इस तरह से बैठने पर हिप्स, घुटनों और एड़ियों पर काफी जोर पड़ता है, जिससे आगे चलकर कम उम्र में ही घुटनों और कई जगहों पर दर्द की शिकायत बनी रहती है।

चलने और बैठने का तरीका :

आगे चलकर रीढ़ से संबंधित कई तरह की गंभीर समस्याओं से भी दो-चार होना पड़ सकता है । इस अवस्था में बैठने वाले अमूमन बच्चे हड्डियों की समस्या का शिकार हो जाते हैं।

Baby Sitting in W Position
Baby Sitting in W Position

ऐसे में क्या करना चाहिए?

इस तरह कि बिमारियों से बचाने के लिए आपको ज्यादा कुछ करने कि जरुरत नहीं है। बस आपको इतना करना है कि अगर आपको कोई बच्चा इस तरह से बैठा हुआ दिखाई दे, तो तुरंत उसके पैर सीधे कर दीजिए। खासकर पेरेंट्स को इस बात का विशेष ध्यान देना चाहिए कि वो अपने बच्चों को इस तरह नहीं बैठने दें। बच्चों का ‘W सिटिंग’ आकार में इस तरह से बैठना बहुत ज्यादा ही खतरनाक हो सकता है। अक्सर बच्चे के बैठने के तरीके को पेरेंट्स नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन आपकी बरती गई ये एक सावधानी बच्चे के पूर्ण रूप से विकास के लिए बहुत जरूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here