स्ट्रेस, थकान और माइग्रेन से राहत दिलाते हैं ये 4 योगासन.

योग शरीर को स्वस्थ रखने का एक आसान तरीका है। रोज अपने दिन का थोड़ा सा समय योग को देने से हम हमेशा हेल्दी रह सकते हैं। कुछ आसान योगासन हैं, जिन्हें करने से माइग्रेन में राहत मिल सकती है। दवाइयों के साथ-साथ योग करने से माइग्रेन से लड़ने में मदद मिलती है।

1. बालासन

Balasan : Cure Migraine With These 4 Yoga
बहुत उपयुक्त माना जाने वाला बाल मुद्रा आसन एक बहुत ही अच्छा स्ट्रेस बस्टर है। इस आसन के दौरान आपके कूल्हों, जांघों, एड़ियों में हलका सा खिंचाव महसूस होगा तथा यह आसन मन को शांत और आपको तनाव-थकान से मुक्त रखेगा। बाल मुद्रा आसन मन को भी शांत करता है व प्रभावी रूप से दर्द को कम करता है।
बालासन करने की विधि
इस आसन को करने के लिए घुटने के बल जमीन पर बैठ जाएं और शरीर का सारा वजन एड़ियों पर डालें। गहरी सांस लेते हुए आगे की ओर झुकें। ध्‍यान रखें कि आपका सीना जांघों से छूना चाहिए, अब अपने माथे से फर्श को छूने की कोशिश करें। कुछ सेकंड इस अवस्था में रहें और फिर सामान्य स्थिति में आ जाएं। 5 सेकण्ड तक आराम करें और इस आसन को कम से कम 5-6 बार करें।

आगे पढ़ने के लिए Next पर Click करे….

2. हस्तपादासन

Hasthpadasan : Cure Migraine With These 4 Yoga
हस्तपादासन शरीर में स्फूर्ति से भर देता है। यह आसन रक्तसंचार को बढ़ाता है और मन को शांत करता है।

हस्तपादासन करने की विधि

किसी समतल और शुद्ध वातावरण वाले स्थान पर कंबल या अन्य आसन बिछा कर सीधे खड़े हो जाएं। अब दोनों पैरों की एड़ियों व पंजों को आपस में मिला लें। दोनों हाथों को ढ़ीला छोड़ दें। अब सांस अंदर खींचे। इसके बाद सांस को बाहर छोड़ते हुए कमर के ऊपरी भाग को धीरे-धीरे सामने की ओर झुकाएं। घुटनों को बिल्कुल सीधा रखें तथा बाकी शरीर को तब तक झुकाएं जब तक हाथों से एड़ियों को पकड़ न लें। अब मुंह को धीरे-धीरे घुटनों की तरफ झुकाएं। मुंह को घुटनों के बीच की खाली जगह में रखें या घुटनों से सटाएं। इस स्थिति में पैर व घुटने को बिल्कुल सीधा रखें। अभ्यास के शुरुआत में इस स्थिति में 10सेकेण्ड तक रहें और फिर सामान्य स्थिति में आ जाएं। 5 सेकण्ड तक आराम करें और इस आसन को कम से कम 5-6 बार करें।
आगे पढ़ने के लिए Next पर Click करे….

3. पश्चिमोत्तानासन

Cure Migraine With These 4 Yoga
पश्चिमोत्तानासन मस्तिष्क को शांत करता है, तनाव से राहत दिलाता है तथा सिर दर्द से भी राहत दिलाता है।
पश्चिमोत्तानासन करने की विधि
इस आसन को करने के लिए पैरों को सामने फैलाकर बैठ जाएं अब हथेलियों को घुटनों पर रखकर सांस भरते हुए हाथों को ऊपर की ओर उठाएं व कमर को सीधा कर ऊपर की ओर खींचे। अब सांस छोड़ते हुए आगे की ओर झुकें व हाथों से पैरों के अंगूठों को पकड़कर माथे को घुटनों पर लगा दें। ध्‍यान रखें कि घुटने मुड़ने नहीं चाहिए और कोहनियों को जमीन पर लगाने का प्रयास करें।

आगे पढ़ने के लिए Next पर Click करे….

4. शवासन

Shawasan : Cure Migraine With These 4 Yoga
शवासन मन को गहरे ध्यान में ले जा कर शरीर को फिर से स्फूर्ति से भर देता है। अपने दैनिक योग अभ्यास को कुछ मिनटों के लिए इस मुद्रा में लेट कर समाप्त करना चाहिए।
शवासन करने की विधि
इस आसन को करने के लिए पीठ के बल लेटकर दोनों पैरों में ज्यादा से ज्यादा अंतर रखें। पैरों के पंजे बाहर और एड़ियां अंदर की तरफ होनी चाहिए। दोनों हाथों को शरीर से लगभग एक फिट की दूरी पर रखें। हाथों की उंगलियां मुड़ी हुई हों, आंखों को भी बंद रखें और गर्दन को सीधा रखें। शवासन में सबसे पहले पैर के अंगूठे से लेकर सिर तक का भाग ढीला छोड़ देते हैं। पूरा शरीर ढीला छोड़ने के बाद आराम से सांस को अंदर ले और फिर धीरे-धीरे बाहर की ओर छोड़े। यह आसन करते समय मन शांत रखें और पूरा ध्यान सिर्फ शरीर पर रखें।
ये भी पढ़े : फेस योगा रखेगा आपका चेहरा जवां
Share

Recent Posts