शुद्ध पानी के लिये लगाया है RO तो उसके नुकसान भी जान लिजिये !

0
23

पानी की समस्या दिनों दिन बढती जा रही है आज जलस्तर बहुत नीचे गिर गया है। पानी में अशुद्धियों की वजह से लोग आजकल पानी को शुद्ध करने के लिये आरओ लगाने लगे है। लेकिन क्या आप जानते है कि आरओ का पानी भी आपके स्वास्थ्य को गंभीर नुकसान पहुॅचा सकता है। आर ओ का मतलब होता है ओस्मोसिस वाटर प्यूरिफायर। आर ओ लगाकर लोगों को लगता है कि यह पानी उन्हें हेल्दी रखेगा जबकि इस आरओ के द्वारा फिल्टर किये गये पानी से भी हमारी सेहत को कई तरह के नुकसान होते है।

मिनरल्स हटाता है

लोग आरओ का इस्तेमाल पानी की गंदगी दूर करने के लिये करते है लेकिन यह आरओ पानी को साफ करने के साथ साथ पानी में मौजूद कई तरह के मिनरल्स को भी निकाल देता है जो हमारे शरीर के स्वास्थ्य के लिये बेहद जरूरी होते है। आरओ पानी प्यूरीफाई करने के दौरान पानी में मौजूद आइरन, मैग्निशियम, कैल्शियम और सोडियम जैसे तत्वों को निकाल देता है जो कि हमारे शरीर के लिये जरूरी है। लगातार आरओ के पानी इस्तेमाल करने से शरीर के पाचन तंत्र पर भी असर पडता है और आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी कम कर देता है जिसके वजह से आप बीमार हो सकते है।

कैल्शियम की हो सकती है कमी

पानी को शुद्ध करने के साथ ही आरओ सिस्टम पानी में मौजुद नमक अणुओं से क्षारीय अणुआें को हटा देता है जिसकी वजह से पानी एसिडीक हो जाता है। और यह पानी आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहॅुचा सकता है। पानी में मौजूद कार्बनिक एसिड शरीर से कैल्शियम दूर करता है।

बैक्टीरिया नहीं हो पाते पूरी तरह से दूर

लोगों का यह मानना है कि आरओ पूरी तरह से पानी के बैक्टीरिया को खत्म कर देता है लेकिन यह सोचना गलत है। आरओ में पानी प्यूरीफाई करने के लिये मैंब्रीन होती है जो पानी में मोजूद बैक्टीरिया को खत्म करती है लेकिन तो भी कई छोटे छोटे बैक्टीरिया पानी में रह जाते है। जो शरीर को नूकसान पहॅुचाते है। मैंब्रिन भी पूरी तरह से शुद्ध नहीं करता पानी को साफ।

स्वास्थ्य के अलावा अन्य नुकसान

स्वास्थ्य के अलावा आरओ लगाने से पानी का बहुत नुकसान होता है। आरओ की तकनीक में पानी को दो भागों में बांट दिया जाता है जिसमें शुद्ध पानी अलग और अशुद्ध पानी अलग। लेकिन अशुद्ध पानी के रूप में बहुत सारा पानी व्यर्थ चला जाता है।

आरओ के कारण करीब आधे से भी ज्यादा पानी बेकार चला जाता है। इसके अलाव आरओ लगवाना एक मंहगा विकल्प भी है। और अच्छे से अच्छे आरओ भी ज्यादा समय नहीं चल पाते है और खराब हो जाते है।

पानी फिल्टर करने वाली मैब्रिन बार बार खराब हो जाती है जिसे बदलना पडता है और कई बार इसका पता भी नहीं चलता है। इसके अलावा भी आरओ में कई तरह की दिक्कतें आती है जिसके कारण साल में कई बार आरओ रिपेयर करवाना पडता है जिसमें बहुत पैसा खर्च हो जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here