भूलकर भी दुर्गा मंदिर में न करें ये काम, होगा अशुभ

0
18

नवरात्र के दिनों में हर कोई मां को प्रसन्न करने में लगा हुआ है। हर किसी की चाहत होती है मां दुर्गा उनके ऊपर अपना आर्शीवाद बनाएं रखें। नवरात्र में लोग नौ दिनों तक देवी मां की पूजा करते हैं और उनका आशीर्वाद पाते हैं। उनकी कृपा पाने के लिए कई पुजारी विशेष पूजा विधि भी बताते हैं, लेकिन कुछ ऐसे काम भी हैं जिन्हें नवरात्र के नौ दिनों में करना मान्यता के अनुसार अशुभ माना जाता है। आपके साथ ऐसा न हो इसके लिए हम आपको बता रहें है वो काम जिन्हें नवरात्र के नौ दिनों के दौरान करने से बचना चाहिए। जानइए ऐसे कैन से काम है जो मंदिर में जाकर नहीं करना चाहिए।

योगिनी तंत्र में कहा गया है कि शिव के मंदिर में भल्लक, सूर्य के मंदिर में शंख और दुर्गा के मंदिर में बांसुरी तथा माधुरी नहीं बजाने चाहिये । जय सिंह कल्प द्रुम के अनुसार पूजा के समय सदैव घंटा या घंटी बजाना शुभ होता है। घंटा सर्ववादमय, यानी सब जगह बजाने के उपयोग में आने वाला माना गया है।

भारत के अलावा चीनियों ने भी इसे समझा है। इसीलिए आज बाजार में तरह-तरह कि विंड चाइम्स उपलब्ध हैं, यही नहीं गिरजाघरों में भी घंटी बजाने की परम्परा है। घंटे की आवाज निगेटिव एनर्जी को हटा कर पॉजिटिव एनर्जी को एकत्र करके उस स्थान के वास्तु को शुद्ध करती है। इसीलिये पूजा घर में अपने वामभाग में घंटा बजा कर रखना चाहिये और उसकी गंध, अक्षत, पुष्प से पूजा करनी चाहिए |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here