जानिये आखिर कैसे बनता है बंदूक का लाइसेंस

0
20

अक्सर आपने सुना होगा की बंदूक रखने के लिए लाइसेंस की जरूरत होती है इसके बिना आप बंदूक नहीं रख सकते है। आज हम आपको बतायेंगे लाइसेंस बनवाने की प्रक्रिया के बारे में। यह पढ़ने तो आपको आसान लगेगी लेकिन बनवाने में आपकी चप्पल ज़रूर घिस जायेगी। Getting a Gun License

आइये जानते है की कैसे बनता है बंदूक का लाइसेंस –

बंदूक का लाइसेंस उन लोगों को मिलता है, जिनके बिज़नेस या work की वजह से जान का खतरा होता है। यह तो वह Person कोई शूटिंग खेल खेलता हो।भारत सरकार के नियमों के अनुसार भारत में सिर्फ तीन तरह की बंदूक के लिए ही लाइसेंस जारी किया जाता है। भारत में तीन बंदूक शॉर्टगन, हैंडगन और स्पोर्टिंग गन के लिए ही लाइसेंस जारी किए जाते हैं। एक व्यक्ति ज्यादा से ज्यादा तीन बंदूकों का ही लाइसेंस ले सकता है। जिनके बिज़नेस या काम की वजह से जान का खतरा होता है या वो कोई शूटिंग खेल खेलते हों।

इसके लिए आपको अपने जिला पुलिस कार्यालय से Form ‘A’ लेना होता है। फिर उस पर 5 रुपये की कोर्ट फ़ीस स्टैम्प लगा कर Apply करना पड़ता है। यह फ़ॉर्म आपको बहुत आसानी से आपकी State Police की वेबसाइट पर ​मिल सकता है।

अब आपको हम बतायेंगे इस फॉर्म के साथ और कौन कौन से डॉक्यूमेंट लगेंगे। इस फ़ॉर्म के साथ आपको अपने वोटर आईडी की कॉपी, पिछले तीन साल के इंकम टैक्स रिटर्न का ब्योरा, अपने एरिया के दो ज़िम्मेदार नागरिकों से Character certificate, शारीरिक फिटनेस का प्रमाण, शैक्षिक प्रमाण की फोटोकॉपी , Birth Certificate और साथ में बंदूक रखने के कारण को उचित साबित करने के लिए Document लगे होने चाहिए।

अब आप यह सभी दस्तावेज़ लेकर अपने इलाके के पुलिस स्टेशन में जमा कर दे। इसके बाद पुलिस आपके बारे में inquiry करेगी। उसकी रिपोर्ट Zonal DCP और ज़िले के SP को देगी। इसके बाद डीसीपी और डीएम Applicant का इंटरव्यू लेते हैं। इसके बाद अगर डीसीपी और डीएम आवेदनकर्ता के कारणों से संतुष्ट होते हैं तब वो लाइसेंस जारी कर देते हैं। इस पूरी process में लगभग दो महीने का समय लगता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here