शीघ्रपतन रोकने के कारण लक्षण और घरेलू उपाय

0
67

भारत और अमेरिका में यह समस्या ज्यादातर युवाओं में पाई जा रही है आज के आधुनिक खानपान और गलत आदतों के कारण यह समस्या आती है युवा अवस्था में हस्तमैथुन ज्यादा करना, अश्लील चीज़ें देखना, मानसिक तनाव आदि के वजह से संभोग यानि सेक्स करने के शुरुआत में ही वीर्य निकल जाता है जब व्यक्ति का वीर्य एक मिनट से पहले ही निकल जाए तो इसे शीघ्रपतन कहा जाता है। Home Remedies for Premature Ejaculation

शीघ्रपतन का इलाज संभव है।

शीघ्रपतन एक यौन समस्‍या है जो सीधे तौर पर लिंग के स्‍वास्‍थ्‍य पर निर्भर करता है। आप भी एक स्‍वस्‍थ लिंग के लिए घरेलू उपचार को अपनाकर शीघ्रपतन जैसी समस्‍या से छुटकारा पा सकते हैं।

ये भी पढ़िए : बिस्तर पर पुरूषों के सही परफॉर्म न कर पाने के कारण

हालांकि शीघ्र स्‍खलन की समस्‍या होने पर डॉक्‍टरी इलाज की सलाह दी जाती है। लेकिन अधिकांश लोग इस विषय में खुलकर बात करने में असुविधा महसूस करते हैं। इसलिए समय से पहले होने वाले स्‍खलन के लिए कुछ प्रभावी घरेलू उपाय भी लिये जा सकते हैं।

कुछ लोग जल्‍दी स्‍खलित होने की समस्‍या को लेकर जल्‍दी घबरा जाते हैं। जबकि यह कोई स्‍थाई समस्या नहीं है। उचित इलाज लेने पर इसे पूरी तरह से ठीक किया जा सकता है। आइये जानतें हैं शीघ्रपतन को दूर करने के आसान घरेलू उपाय के बारे में।

शीघ्रपतन क्या है –

शीघ्रपतन एक पुरुष यौन समस्‍या या रोग है जिसके होने पर पुरुष साथी यौन प्रवेश करने से पहले या योनि प्रवेश के तुरंत बाद चरमोत्‍कर्ष पर पहुंच जाते हैं। जिससे उन्‍हें और विशेष रूप से उनकी महिला साथी को यौन सुख नहीं मिल पाता है। यदि आप भी शीघ्रपतन की समस्‍या से ग्रस्‍त हैं तो इसे नजर अंदाज न करें।

आपको एक सेक्‍सोलॉजिस्‍ट से सलाह लेने की आवश्‍यकता है। हालांकि इस बीच आप कुछ प्राकृतिक उपचारों का सहारा ले सकते हैं जो आपके लिंग के स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार ला सकते हैं।

शीघ्रपतन क्यों होता है :

शीघ्रपतन का मुख्य कारण होता है मनोवृति या आदत। यदि किसी व्यक्ति की अधिक कामुक वृत्ति हो तो वो बार बार कामोत्तेजित हो जाता है। सुन्दर स्त्री को देखने मात्र से उसे उत्तेजना होने लगती है। अधिक कामोत्तेजना के कारण धैर्य और संयम रख पाना मुश्किल हो जाता है और व्यक्ति हस्तमैथुन करना शुरू कर देता है।

ये भी पढ़िए : जानिये शारीरिक संबंध बनाने के बाद क्यों जरुरी होता है पेशाब करना !!

ऐसा व्यक्ति हस्तमैथुन करके जल्द से जल्द स्खलित होकर कामोत्तेजना को शांत करता है। यही जल्दबाजी और उतावलापन आदत बन जाती है। यही आदत सहवास के समय भी शीघ्र पतन करा देती है।

दूसरा कारण आत्म विश्वास की कमी से यानि इस डर से कि कही जल्द वीर्यपात न हो जाये वीर्यपात हो जाता है। मन से डर निकालकर विश्वास पूर्वक संभोग करने से इस तरह की समस्या पर काबू पाया जा सकता है। इसके अलावा पौष्टिक भोजन की कमी और ज्यादा तेज मिर्च मसाले, शराब, खटाई, फ़ास्ट फ़ूड आदि खाने से वीर्य प्रभावित होता है जिसके कारण शीघ्र पतन हो सकता है।

मानसिक तनाव, शोक, भय आदि की स्थिति में शीघ्र पतन हो सकता है। पार्टनर का सहयोग ना मिले, पार्टनर अरुचि पैदा करता हो, आशंका युक्त वातावरण हो तो इन कारणों से भी शीघ्रपतन हो जाता है।

Home Remedies for Premature Ejaculation
Home Remedies for Premature Ejaculation

शीघ्रपतन का आयुर्वेदिक उपचार

  • रोज रात को सोने से पहले लहसुन की दो कलियां निगल लें। फिर थोड़ा-सा पानी पिएं।
  • आंवले के चूर्ण में मिश्री पीसकर मिलाएं। इसके बाद प्रतिदिन रात को सोने से पहले करीब एक चम्मच इस मिश्रित चूर्ण का सेवन करें। इसके बाद थोड़ा-सा पानी पिएं।
  • आंवले का मुरब्बा खाएं। केला पुरुष की शक्ति को बढ़ाने वाला फल है। प्रतिदिन केले खाएं और संभव हो तो केला खाने के बाद दूध भी पिएं।
  • अजवाइन की पत्तियां स्वप्नदोष की समस्या के लिए एक बेहतरीन दवा है। अजवाइन की पत्तियों का जूस निकालकर उसे शहद के साथ लें। अजवाइन का रस इस तरह से लेने से बहुत जल्दी लाभ होता है।

ये भी पढ़िए : तो इस वज़ह से शादी की पहली रात पीते हैं दूध

  • नपुंसकता दूर करने के लिए पुरुषों को कच्ची भिंडी चबानी चाहिए। इस समस्या में भिंडी एक बेहतरीन दवा का काम करती है।
  • प्याज के सफेद कंद का रस, शहद, अदरक का रस और घी का मिश्रण 21 दिनों तक लगातार लेने से नपुंसकता दूर होकर पौरुष शक्ति प्राप्त होती है।
  • छुई-मुई के बीजों के चूर्ण (3 ग्राम) को दूध में मिलाकर रोजाना रात को सोने से पहले लिया जाए तो शारीरिक दुर्बलता दूर हो जाती है।
  • स्वस्थ सोच से ही शरीर स्वस्थ रहता है। यह एक सच्चाई है। इन समस्याओं के लिए हमारे मन की भावनाएं भी काफी हद तक जिम्मेदार होती हैं। मन में भोग-विलास के वासनात्मक ख्याल रहना या मन में हमेशा काम-वासना के विचार घुमड़ते रहना स्वप्नदोष व शीघ्रपतन जैसी समस्याओं का एक बड़ा कारण है।
  • मेथी को इस समस्या की बहुत कारगर दवा माना गया है। दो चम्मच मेथी के जूस में आधा चम्मच शहद मिलाकर रोजाना रात को लेने से इस समस्या में बहुत जल्दी आराम मिलता है।
Home Remedies for Premature Ejaculation
  • हमारी आदतें भी स्वास्थ्य पर गहरा प्रभाव डालती है। यही कारण है कि कई बार सिर्फ गलत आहार-विहार यानी गलत समय पर गलत चीजें गलत तरीके से गलत मात्रा में लेने और अप्राकृतिक तरीके से अपनी दिनचर्या रखने से समस्याएं पैदा होती हैं। इन सभी कारणों से न सिर्फ स्वास्थ्य पर, बल्कि विवाहित जीवन पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है।
  • कच्चे प्याज का सेवन स्वप्नदोष की समस्या में बहुत अच्छा माना गया है। खाने में किसी भी रूप में प्याज का सेवन किया जाए तो इस समस्या में लाभ पहुंचता है। साथ ही, अगर इसे कच्चा खाया जाए तो बेहतर परिणाम मिलते हैं।
  • कुछ पौधों को कभी खर-पतवार तो कभी कचरा या कभी फालतू पौधा मानकर उखाड़ फेंक दिया जाता है। ऐसा ही एक पौधा है पुनर्नवा। पुनर्नवा का वानस्पतिक नाम बोहराविया डिफ्यूसा है। पुनर्नवा की ताजी जड़ों का रस (2 चम्मच) दो से तीन माह तक लगातार दूध के साथ सेवन करने से वृद्ध व्यक्ति भी युवा की तरह महसूस करने लगता है।
  • तिल का तेल भी इस समस्या में रामबाण की तरह काम करता है। तिल के तेल को जितनी मात्रा में लें, उतनी ही मात्रा में लौकी का जूस भी लें। रात को सोने से पहले इस तेल के मिश्रण से अपने सिर और बॉडी पर मसाज करें। यह एक बहुत प्रभावी नुस्खा है, जो बिना किसी खास खर्च के आपको इस समस्या से पूरी तरह राहत देगा।

ये भी पढ़िए : बांझपन दूर करने के लिए घरेलू उपाय

  • साबुत अनाज को भिगोकर अंकुरित कर खाने से खून बढ़ता है। इसके नियमित सेवन से स्वप्नदोष की समस्या कम हो जाती
  • उड़द की धुली हुई दाल आधी कटोरी और पुराने चावल आधा कटोरी मिलाकर खिचड़ी बना लें। सुबह या शाम को इस खिचड़ी को देसी घी डालकर अच्छे से चबा चबा कर खाएं। इसके बाद एक गिलास गुनगुना मीठा दूध पी लें। इसे एक महीने तक खाएं।
  • कोंच के शुध्द बीज (पंसारी के मिलेंगे) 100 ग्राम बारीक पीस लें। इसे 250 ग्राम मैदा में मिलाकर पानी से गूंथ ले। इसके जामुन के आकार के गोले बना कर देसी घी में तल लें। इन्हे शक्कर की चाशनी बनाकर उसमे डुबोकर निकाल लें। किसी बर्तन में रखें अब इतना शहद डालें की सब गोले शहद में डूब जाएँ।
  • शतावर , अश्वगंधा और गोखरू तीनो 100 -100 ग्राम ( पंसारी के मिलेंगे ) लेकर बारीक पीस कर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण में से एक चम्मच लेकर शहद में मिलाकर खा लें। ऊपर से एक गिलास ठण्डा मीठा दूध पी लें। इसे सुबह खाली पेट लें। रात को खाना खाने के दो घंटे बाद लें। तेल ,खटाई कम मात्रा में ही लें या नहीं लें।
Home Remedies for Premature Ejaculation
Home Remedies for Premature Ejaculation

इन गलत आदतों से होती है यह बीमारी

  • अक्सर खानपान से जुड़ी गलत आदतें भी शीघ्रपतन का कारण बन सकती हैं।
  • शरीर में जरूरी विटामिन्स और मिनरल्स की कमी भी शीघ्रपतन का कारण बन सकता है।
  • अक्सर पाचन या डाइजेशन कमजोर होने से भी यह समस्या हो सकती है।
  • कब्ज भी इसका एक कारण हो सकता है।
  • हारमोन्स में किसी तरह का असंतुलन भी इसका कारण हो सकता है।
  • कई बार पुरुषों में स्पर्म काउंट कम हो जाता है। यह भी शीघ्रपतन की एक वजह हो सकता है।
  • शिश्न की नसों का सिकुड़ जाना भी शीघ्रपतन की एक वजह हो सकता है।
  • चिन्ता और तनाव शीघ्रपतन के बड़े कारणों में से एक हो सकता है।
  • आत्मविश्वास की कमी या प्रदर्शन का भय भी कई बार इसकी वजह बन सकता है।
  • कई बार साथी के साथ भावनात्मक जुड़ाव का कम होने भी शीघ्रपतन का कारण बन जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here