कब और किस स्थिति में निकाल सकते हैं PF का पूरा पैसा?

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) की भविष्य निधि जमा की निकासी के लिए ऑनलाइन सुविधा मौजूद है. ऑनलाइन सुविधा का लाभ पांच करोड़ से अधिक अंशधारकों को मिल रहा है. एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, ऐप्लिकेशन फाइल करने के बाद पीएफ ट्रांसफर से लेकर पीएफ का पैसा निकालने की सारी प्रक्रिया 3 दिनों में पूरी हो जाती है. ऐसे सभी अंशधारक, जिनका पीएफ व बैंक खाता आधार नंबर से जुड़ा है, इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि किन परिस्थितियों में पीएफ का पूरा सेटलमेंट होता है या किस स्थिति में आप पीएफ की पूरी राशि निकाल सकते हैं. जानिए क्या कहता है EPFO का नियम… How to Withdrawal EPF Amount

Read : आखिर क्यों स्कूल बस का रंग हमेशा पीला होता हैं

कब निकाल सकते हैं पैसा :

पीएफ की राशि को एमरजेंसी की स्थिति में निकाला जा सकता है. 7 परिस्थितियों में आप पीएफ की राशि को निकाल सकते हैं. कुछ परिस्थितियों में आप पीएफ का पूरा हिस्सा निकाल सकते हैं और कुछ में पीएफ के कुल पैसे का एक निश्चित हिस्सा ही निकाला जा सकता है. आइए जानते हैं कौन सी हैं ये 7 परिस्थितियां, जिनमें पीएफ की राशि को निकाला जा सकता है-

How to Withdrawal EPF Amount

1- मेडिकल ट्रीटमेंट :

आप अपने, पत्‍नी के, बच्‍चों के या फिर माता-पिता के इलाज के लिए भी पीएफ विद्ड्रॉ कर सकते हैं. इस स्थिति में आप कभी भी पीएफ विद्ड्रॉ कर सकते हैं यानी ये आवश्‍यक नहीं है कि आपकी सर्विस कितने समय की हुई है. इसके लिए एक महीने या उससे अधिक तक अस्पताल में भर्ती होने का सबूत देना होता है. साथ ही इस समय के लिए इंप्लॉयर के द्वारा अप्रूव लीव सर्टिफिकेट भी देना होता है.

पीएफ के पैसों से मेडिकल ट्रीटमेंट लेने के लिए व्यक्ति को अपने इंप्लॉयर या फिर ईएसआई के द्वारा अप्रूव एक सर्टिफिकेट भी देना होता है. इस सर्टिफिकेट में यह घोषणा की गई होती है कि जिसे मेडिकल ट्रीटमेंट चाहिए, उस तक ईएसआई की सुविधा नहीं पहुंचाई जा सकती या फिर उसे ईएसआई की सुविधा नहीं दी जाती है. इसके तहत पीएफ का पैसा निकालने के लिए फॉर्म 31 के तहत आवेदन करने के साथ-साथ बीमारी का सर्टिफिकेट या की अन्य ऐसा डॉक्युमेंट देना होता है, जिससे सत्यता की जांच की जा सके. मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए कोई भी व्यक्ति अपनी सैलरी का 6 गुना या फिर पूरा पीएफ का पैसा, जो भी कम हो, निकाल सकता है.

Read : हनुमान जी के मंदिर में भूलकर भी ना करे ये 5 काम

2- एजुकेशन/ शादी :

अपनी या भाई-बहन की या फिर अपने बच्‍चों की शादी के लिए पीएफ की राशि को निकाला जा सकता है. आप अपनी पढ़ाई या फिर बच्‍चों की पढ़ाई के लिए भी पीएफ की राशि को निकाल सकते हैं. इसके लिए कम से कम 7 साल की नौकरी हो जानी चाहिए. संबंधित कारण का सबूत आपको देना होगा. एजुकेशन के मामले में आपको अपने एम्प्लायर के द्वारा फॉर्म 31 के तहत आवेदन करना होता है. आप पीएफ निकालने की तारीख तक कुल जमा का 50 प्रतिशत पीएफ ही निकाल सकते हैं. एजुकेशन के लिए पीएफ का इस्तेमाल कोई भी व्यक्ति अपने पूरे सेवाकाल में सिर्फ तीन बार कर सकता है.

3- प्‍लॉट खरीदने के लिए :

प्लॉट खरीदने के लिए पीएफ का पैसा इस्तेमाल करने के लिए आपका कार्यकाल 5 साल पूरा होना चाहिए. प्‍लॉट आपके, आपकी पत्‍नी के या दोनों के नाम पर रजिस्‍टर्ड होना चाहिए.
प्लॉट या प्रॉपर्टी किसी प्रकार के विवाद में फंसी नहीं होनी चाहिए और न ही उस पर कोई कानूनी कार्रवाई चल रही होनी चाहिए. प्लॉट खरीदने के लिए कोई भी व्यक्ति अपनी सैलरी का अधिकतम 24 गुना तक पीएफ का पैसा निकाल सकता है. इस तरह की स्थिति में आप अपनी नौकरी के कुल समय में सिर्फ एक ही बार पीएफ का पैसा निकाल सकते हैं.

4- घर बनाने या फ्लै :

इस तरह की स्थिति में आपकी नौकरी के 5 साल पूरा होना आवश्‍यक है. इसके तहत कोई भी व्यक्ति अपनी सैलरी का अधिकतम 36 गुना तक पीएफ का पैसा निकाल सकता है. इसके लिए अपनी नौकरी के सयम के दौरान सिर्फ एक बार ही पीएफ के पैसों का इस्तेमाल किया जा सकता है.

Read : बिस्कुट तो सभी खाते होंगे पर कभी सोचा है कि बिस्कुट में छेद क्यों होते हैं

5- रि-पेमेंट ऑफ होम लोन :

इसके लिए आपकी नौकरी के 10 साल होना चाहिए. इसके तहत कोई भी व्यक्ति अपनी सैलरी का अधिकतम 36 गुना तक पीएफ का पैसा निकाल सकता है. इसके लिए अपनी नौकरी के सयम के दौरान सिर्फ एक बार ही पीएफ के पैसों का इस्तेमाल किया जा सकता है.

How to Withdrawal EPF Amount

6- हाउस रिनोवेशन :

इस स्थिति में आपके की नौकरी के कम से कम 5 साल पूरे होने चाहिए. इसके तहत कोई भी व्यक्ति अपनी सैलरी का अधिकतम 12 गुना तक पीएफ का पैसा निकाल सकता है. इसके लिए अपनी नौकरी के सयम के दौरान सिर्फ एक बार ही पीएफ के पैसों का इस्तेमाल किया जा सकता है.

7- प्री-रिटायरमेंट :

इसके लिए आपकी उम्र 54 वर्ष होनी चाहिए. इस स्थिति में आप कुल पीएफ बैलेंस में से 90प्रतिशत तक की रकम निकल सकते हैं, लेकिन यह विद्ड्रॉ सिर्फ एक ही बार किया जा सकता है.

Read : भगवान शिव ने क्यों किया था सूदामा का वध »

पीएफ विथड्रॉल टैक्‍सेबल है या नहीं

यदि आप लगातार सर्विस के दौरान 5 साल से पहले पीएफ विद्ड्रॉ करते हैं तो यह Taxable होगा. यहां लगातार सर्विस से मतलब ये नहीं है कि एक ही संस्था में 5 साल तक सर्विस होना. आप सर्विस बदल सकते हैं और कोई भी संस्था Join कर सकते हैं. आप अपने पीएफ अकांउट को नए Employer को ट्रांसफर कर सकते हैं.

How to Withdrawal EPF Amount

पिछले पांच साल में क्या है EPF रेट :

Share

Recent Posts

हनुमानजी का एक ऐसा दरबार जहां पैर रखते ही मिट जाते है सारे दुःख दर्द

भारत देश में रहस्य भरे पड़े हैं। कोई भी क्षेत्र इन रहस्यों से अछूता नहीं है। कुछ तो ऐसे हैं… Read More

September 5, 2019

मोर पंख को फोटो-फ्रेम में लगा देने से मिलता है समस्याओं से छुटकारा

मोरपंख के माध्यम से हम जिन्दगी की हर परेशानियों को सुलझाने में काफी मदद करेंगे. हिन्दू धर्म में मोर पंख… Read More

August 20, 2019

वास्तु के अनुसार बाथरूम के अंदर भूलकर भी ना करे ये काम, होता हैं बड़ा अपशगुन

दोस्तों घर की बाथरूम वो जगह हैं जिसका उपयोग घर के सभी सदस्य करते हैं. आपको जान हैरानी होगी लेकिन… Read More

August 17, 2019

मीठा खाने से नहीं, इन 5 कारणों से हो सकती है डायबिटीज

घर में जब आप मिठाई या कोई मीठी चीज अधिक मात्रा में खा रहे होते हैं तो हर कोई आकर… Read More

August 12, 2019

सावधान! इन राशि वालों को भूलकर भी नहीं पहनना चाहिए कछुए वाली अंगूठी

कछुए की अंगूठी आजकल हर कोई पहनना चाहता है। मान्यता के अनुसार कछुए वाली अंगूठी पहनने से कई तरह के… Read More

August 11, 2019

अगर कोई बच्चा ऐसे बैठा दिखाई दे तो तुरंत उसके पैरों को सीधा कर दीजिए

बच्चों की देखभाल करना हर पेरेंट्स के लिए काफी मुश्किल भरा काम होता है। पेरेंट्स को बच्चों की हर बात… Read More

August 9, 2019