आखिर किस उंगली से माथे पर तिलक लगाने से मिलता है धन, सेहत और मोक्ष

0
20

भारतीय संस्‍कृति में यूं तो कई रीति रिवाजों को माना जाता है मगर भारत में रहने वाले हिन्‍दू परिवारों में माथे पर तिलक लगाने का रिवाज बेहद अनोखा है। प्राचीन काल से यह माथे पर तिलक लगाने की परंपरा चली आ रही है और आज भी लोग इस परंपरा को निभा रहे हैं। जब कोई त्‍योहार होता है तब भी माथे पर तिलक लगाया जाता है और जब कोई घर से बाहर निकलता है तब भी माथे पर तिलक लगाने रिवाज है। हां, हर अवसर पर तिलक लगने के मायने बदल जाते हैं। इसके साथ ही बदल जाती हैं तिलक लगाने वाले उंगलियां। जी हां, आपको यह जान कर बेहद हैरानी होगी कि माथे पर अलग-अलग उंगलियों से तिलक लगाने का असर भी अलग अलग होता है। तो चलिए जानते हैं कि कौन सी उंगली से तिलक लगाने पर क्‍या फायदा होता है।

मिडल फिंगर (बीच वाली उंगली)

जब कोई अच्‍छे काम के लिए घर से बाहर निकले या फिर किसी को आशिर्वाद देना हो तो उसे बीच वाली उंगली से तिलक लगाना चाहिए । इससे उस व्‍यक्ति को काम में सफलता मिल जाती है। दरअसल हिंदू धर्म में मान्‍यता है कि बीच वाली उंगली में शनि ग्रह होता है। और शनि ग्रह सफलता का प्रतीक माना जाता है। इसलिए इस उंगली से तिलक करने पर व्‍यक्ति को अपने कार्य में सफलता मिलती है। इसलिए अब से जब आपके बच्‍चे एग्‍जाम देने जाएं या फिर आपके पति किसी जरूरी मीटिंग पर जाएं तो आप उन्‍हें इस उंगली से तिलक जरूर लगाएं, उन्‍हें सफलता जरूर मिलेगी।

रिंग फिंगर ( बीच वाली उंगली के बाद वाली उंगली)

आज की भागती दौड़ती जिंदगी में सभी को शांति की तलाश है। अगर हम आपसे कहें कि यह तलाश मात्र माथे पर एक तिलक लगा कर पूरी हो जाएगी तो शायद आपको हमारी बातों पर‍विश्‍वास न हो मगर यह सत्‍य है कि अगर रिंग फिंगर से किसी के माथे पर तिलक लगाया जाए तो उसका मन शांत हो जाता है। दरअसल हिंदू धर्म में मान्‍यता है कि जिस तरह मिडिल फिंगर में शनि ग्रह वास करता है उसी तरह रिंग फिंगर में सूर्य वास करता है। कहते हैं कि माथे पर आज्ञाचक्र होता है और रिंग फिंगर से माथे पर तिलक लगाने से शांति प्राप्‍त हाती है। इतना ही नहीं इससे चेहरे पर चमक भी आ जाती है। भगवान की तस्‍वीर पर तिलक भी इसी फिंगर से लगाया जाता है।

अंगूठे से तिलक लगाना होता है अच्‍छा

हिुंदू परंपराओं के अनुसार अंगूठे में शुक्र ग्रह होता है, जो अच्‍छी सेहत और धन का प्रतीक होता है। कहते हैं, यदि घर पर कोई बीमार है और उसे चंदन का टीक अंगूठे से माथे पर लगाया जाए तो वह जल्‍द ही ठीक हो जाता है। अगर किसी चीज पर जीत हासिल करनी है या कोई फसा हुआ धन हासिल करना है तब भी अंगूठे से तिलक लगाने पर वह धन वापिस मिल जाता है। इसलिए अगली बार जब आप अपने पति या भाई को खूब कमाने का आशिर्वाद देना चाहें तो उन्‍हें अंगूठे से तिलक लगाएं।

सबसे छोटी उंगली दिलाती है मोक्ष

जीवन में एक समय आता है जब हमारा शरीर मृत्‍यु को प्राप्‍त हो जाता है। यह ऐसा वक्‍त होता है जिसमें हर व्‍यक्ति मोक्ष प्राप्‍त करना चाहता है। मोक्ष का अर्थ होता है जीवन मरण के चक्र से मुक्ति पा जाना। इसलिए जीवन भर व्‍यक्ति मोक्ष पाने के लिए तरह-तरह की परंपराओं को निभाता है। मगर मृत्‍यु के बाद यदि किसी व्‍यक्ति की माथे पर हाथ की सबसे छोटी उंगली से तिलक लगाया जाता है तो उसे मोक्ष की प्राप्‍ती हो जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here