अगर आप भी करते है हैंडड्रायर का इस्तेमाल, तो हो जाइये सावधान

0
31

पहले लोगों को शौचालय में शौच जाने के लिए मन बनाना पड़ा. फिर हाथ धुलने के लिए. राख और मिट्टी से साबुन पर आने में भी बहुत वक्त लिया लोगों ने. उससे भी आगे चले, तो हैंडवॉशर यूज करने लगे. फिर एक नई चीज आई. हैंड ड्रायर. अच्छे वाले सार्वजनिक शौचालयों या ऑफिस-होटल में लगी दिखती. Side Effects Of Hand Dryer

लोग हैंड वॉशर से हाथ धोते. फिर हैंड ड्रायर के नीचे हाथ सुखाते. रुमाल या कागजी नैपकिन से हाथ पोंछने की जरूरत ही नहीं. हमें बताया गया कि हाथ धोने के बाद हैंड ड्रायर से हाथ सुखाना बड़ी अच्छी आदत है. मगर अब पता लगा है कि हमको गलत बताया गया था. ये कई बीमारियों का घर है.

यह भी पढ़ें : आखिर क्यों स्कूल बस का रंग हमेशा पीला होता हैं

लोगों की लाइफस्टाइल के साथ जरूरत की चीजें भी बदल रही हैं। कई चीजों को बदल कर उनकी जगह मॉडर्न और हाई-फाई चीजों ने ले ली है। जहां पहले लोग हांथ पोंछने के लिए तौलिया या पेपर का इस्तेमाल करते थे अब उसकी जगह हैंडड्रायर का इस्तेमाल किया जाता है।

क्या हैं हैंडड्रायर से जुडी समस्याएं :

Side Effects Of Hand Dryer
Side Effects Of Hand Dryer

साबुन से हाथ नहीं धोते लोग :

पब्लिक प्लेस और वहां की टॉयलेट मान कर चलिए सभी लोग साबुन और पानी से हाथ धोने के आदि नहीं हैं। ऐसे में इन लोगों का सीधे हैंडड्रायर का इस्तेमाल खतरनाक हो जाता है उन सभी लोगों के लिए जो इस वॉशरूम में जाते हैं। ड्रायर बेहद तेजी से हवा फेंकते हैं और जिन लोगों ने हाथ नहीं धोए हैं उनके हाथों के बैक्टेरिया इस फ़ोर्स के चलते हर जगह फ़ैल चुके होते हैं।

यह भी पढ़ें : क्या आप भी चटकाते हैं उंगलियां तो हो जाइए सावधान

कीटाणु ज्यादा जगह में फैलाता :

ड्रायर का सिस्टम ही फ़ोर्स का है। इसमें डाले गए गंदे हाथों के कीटाणु बहुत बड़े हिस्से तक फ़ैल जाते हैं। पेपर टावल के मुकाबले जेट-एयर ड्रायर से 27 गुना ज्यादा कीटाणु हवा में फैलते हैं। वॉशरूम का फर्श, दीवारें और दरवाजें, दरवाजों के हैंडल पर ये बैक्टेरिया लग जाते हैं। इस तरह से हर किसी पर गंदे बैक्टेरिया के संपर्क में आने का खतरा होता है।

कीटाणुओं की मात्रा अधिक :

किसी वॉशरूम में ड्रायर की उपस्थिति इस बात का संकेत है कि वहां हर जगह कीटाणु ज्यादा मात्रा में हैं। पेपर टावल वाले टॉयलेट की तुलना में यहां कीटाणुओं की मात्रा अधिक होती है क्योंकि यहां हर बार ड्रायर के इस्तेमाल के बाद बैक्टेरिया फ़ैल गए हैं और बढ़ते ही जा रहे हैं।

Side Effects Of Hand Dryer
Side Effects Of Hand Dryer

कैच कर रहे हैं कीटाणु :

कोई और ड्रायर में हाथ सुखा रहा है और आप अपनी बारी के इंतजार में खड़े हैं तो निश्चित तौर पर जानिए कि आप बैक्टेरिया कैच कर रहे हैं। ड्रायर करीब एक मीटर तक कीटाणु उड़ाता है। पेपर टॉवल के साथ यह समस्या नहीं। यह ड्रायर की तुलना में करीब 60 प्रतिशत तक कम कीटाणु फैलता है।

यह भी पढ़ें : 251 प्रकार के सपने और उनके फल

हैंडड्रायर से सुखाना खतरनाक :

यह बात हर किसी ने महसूस की है कि हैंडड्रायर से हाथ पूरी तरह नहीं सूखते। थोड़ी नमी रह जाती है। मतलब बैक्टेरिया अभी भी मौजूद हैं और इस तरह यह हाथ जिस भी चीज को छुएंगे वहां इन बैक्टेरिया का ट्रांसफर होगा।

एंटीबायोटिक प्रतिरोधी कीटाणु:

कुछ ऐसे भी टॉयलेट होते हैं जहां के हैंड ड्रायर में ही एंटीबायोटिक प्रतिरोधी कीटाणु होते हैं। ये कीटाणु दुनिया के लिए और खासकर अस्पतालों व नर्सिंग होम के लिए समस्या बन चुके हैं। शोधकर्ताओं का मानना है कि बाथरूम में हैंड ड्रायर पर प्रतिबंध लगाने के लिए कड़े कदम उठाने की जरूरत है।

बरते ये सावधानियां

  1. कमजोर इम्यूनिटी वाले लोग न करें इनका इस्तेमाल : ऐसे लोग जिनकी इम्यूनिटी कमजोर है, जैसे बुजुर्ग लोग या अधिक बीमार लोग, इसका इस्तेमाल न करें। उन्हें ड्रायर के छोड़े बैक्टेरिया कई तरह की बीमारियां दे सकते हैं।
  2. पेपर टावल का करें इस्तेमाल : अगर आपको पेपर टावल मिल रही है तो ड्रायर का इस्तेमाल न करें। इससे जीवाणु फैलते नहीं।
  3. बैक्टेरिया से बचने के लिए हाथ सही तरीके से धोएं : यह भी जानना महत्वपूर्ण है कि हाथों को कैसे धोया जाता है। कीटाणुओं से बचने के लिए यह जरूरी है कि हाथों को अच्छी तरह साबुन और गर्म पानी से धोया जाए।
  4. अगर संभव हो तो हाथ को नेचुरली सूखने दें : अगर आप ऐसा कर सकते हैं तो हाथों को हवा में या धूप में सुखाएं।
  5. अपने साथ एक कपडे का टावल रखें : ड्रायर से बचने का एक तरीका यह भी हो सकता है कि आप अपने साथ एक मोटा रुमाल या टॉवल रखें जिससे हाथों को पोंछा जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here