जिसकी फिल्म ने तोड़े थे कमाई के सारे रिकार्ड्स, उसी की पत्नी दूसरे के घरों में बर्तन धोने को मजबूर

0
29

फेमस मराठी फिल्म सैराट तो आपने देखी ही होगा? अगर नहीं देखी तो आपको बता दें कि कि यह फिल्म साल की सबसे बड़ी हिट फिल्म थी। इस फिल्म को कई अवार्ड्स मिले और इसके निर्देशक नागराज मंजुले इस फिल्म से सिनेमा की दुनिया में छा गए। बता दें कि सैराट फिल्म के निर्देशक नागराज मंजुले मराठी फिल्मों के चर्चित डायरेक्टर हैं। उन्हें इस फिल्म के बेस्ट निर्देशक का अवॉर्ड भी दिया गया था। सुपरहिट मराठी फिल्म ‘सैराट’ के निर्देशक नागराज ने इस फिल्म के लिए नेशनल अवॉर्ड जिता था। लेकिन, इस मशहूर डायरेक्टर को लेकर अब एक ऐसी खबर सामने आई है जिसे जानकर हर कोई हैरान है।

सैराट फिल्म के निर्देशक नागराज मंजुले की यह मराठी फिल्म पिछले साल रिलीज हुई थी। इस फिल्म ने कमाई के सारे रिकॉर्ड्स तोड़ दिये थे। यह फिल्म इतनी जबरदस्त हिट रही की करण जौहर इसका हिन्दी रीमेक बना रहे हैं। इस फिल्म का नाम धड़क है। फिल्म में श्रीदेवी की बड़ी बेटी जाह्नवी कपूर और शाहिद कपूर के भाई ईंशान खट्टर लीड रोल में नजर आने वाले हैं। ये दोनों की बॉलीवुड में डेब्यू फिल्म है।

लेकिन, आज हम बात नागराज मंजुले की पर्सनल लाइफ की कर रहे हैं जो हमेशा से ही विवादित रही है। आपको बता दें कि इस मशहूर निर्देशक की पत्नी दूसरे के घरों में जूठे-बर्तन साफ करने को मजबूर है। हैरानी की बात तो ये है कि नागराज अपनी पत्नी से कोई मतलब नही रखते और उन्हें किसी तरह की कोई मदद भी नहीं करते हैं। इतना ही नहीं यह मशहूर इन दिनों अपनी फिल्मों से ज्यादा अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर सुर्खियों में है। हम नागराज की जिस पत्नी की बात कर रहे हैं उनसे उनका तलाक हो चुका है। उनका नाम सुनीता है।

सैराट फिल्म के निर्देशक नागराज मंजुले पर उनकी पत्नी सुनीता ने कुछ साल पहले उत्पीड़न का केस दर्ज करवाया था। खबर के मुताबिक, सुनीता की नागराज मंजुले से शादी 18-19 साल की उम्र में ही हो गई थी। उस वक्त नागराज पढ़ाई कर रहे थे और इस वजह से सुनीता उनके घर का पूरा काम अकेले ही करती थी। लेकिन, जब वो धीरे-धीरे सफल होने लगे तो उन्होंने अपनी पत्नी सुनीता से दूरी बनानी शुरु कर दी। इसके बाद दोनों के बीच विवाद शुरु हुआ और बात तलाक तक जा पहुंची।

लगातार बढ़ते झगड़ों की वजह से सुनीता और नागराज मंजुले ने साल 2013 में तलाक हो गया। रिपोर्ट के मुताबिक, नागराज के वकीलों ने सुनीता से धोखे से किसी सादे पेपर पर हस्ताक्षर करवा लिये थे। बता दें कि सुनीता ज्यादा पढी-लिखी नहीं है। तलाक के लिए उन्हें सात लाख रुपये दिये गये और दोनों के बीच तलाक हो गया। अब हैरान करन वाली बात ये है कि नागराज की एक्स वाइफ सुनीता दूसरे को घरों में काम करने और जूठे बर्तन धोने को मजबूर हैं। सुनीता ने उनका साथ देने के लिए लोगों से मदद मांगी थी, लेकिन कोई भी उनकी मदद के लिए आगे नहीं आया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here