ऐसा मंदिर जहाँ फर्श पर सोने से ही गर्भवती हो जाती है महिलाएं

0
162

वे महिलायें जिनकी गोद और आँचल सूना होता है वे बच्चे की प्राप्ति के लिए ना जाने क्या क्या प्रयास करती है. किन्तु फिर भी अनेक महिलायें ऐसी रह जाती है जिनकी संतान की इच्छा पूरी नहीं होती. लेकिन निराश ना हो क्योकि क्यों हम आज आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे है जहाँ मात्र फर्श पर सोने भर से महिलायें गर्भवती हो जाती है. Temple can Make Women Pregnant

कहाँ है ये मंदिर :

ये मंदिर हिमाचल प्रदेश के सिमस गाँव में बना हुआ है और लोगों की मान्यता है कि जो स्त्रियाँ संतान सुख की कामना से इस मंदिर में आती है और यहाँ फर्श पर सोती है तो देवी माँ स्वयं उन्हें सपने में दर्शन देती है, साथ ही वे उन्हें सफल मनोरथ अर्थात संतान सुख का आशीर्वाद भी देती है. इस तरह महिलाओं की गोद भरती है और उन्हें भी संतान सुख की प्राप्ति होती है. इस मंदिर की इसी महिमा को सुनकर यहाँ दूर दूर से हजारों श्रद्धालु आते है और फर्श पर सोते है.

मंदिर का नाम :

इस मंदिर का नाम है संतान्देवी और इसका नाम इस मुहावरे को भी सिद्ध करता है – जैसा नाम वैसा काम. पहले इसे संतानदात्री के नाम से भी जाना जाता था, नवरात्रों के दिनों में तो यहाँ और भी अधिक रंग देखने को मिलते है क्योकि उस वक़्त यहाँ सलिंदरा ( सपने आना ) महोत्सव की धूम मची रहती है. इस महोत्सव के अवसर पर तो महिलायें दिन रात इस मंदिर के फर्श पर आराम करती है क्योकि मान्यता है कि इस तरह वे शीघ्र ही गर्भवती होती है.

कौन सी देवी देती है गर्भवती होने का आशीर्वाद :

माना जाता है कि महिलाओं को सपने में आशीर्वाद देने खुद माता सिमसा आती है. कुछ लोगों का तो ये भी मानना है कि आशीर्वाद याचक की इच्छा अनुसार मिलता है अर्थात अगर उनके मन में पुत्र की कामना होगी तो पुत्र का आशीर्वाद मिलेगा वहीँ पुत्री की कामना रखने वाली महिलाओं को पुत्री प्राप्त होती है. आशीर्वाद से पुत्र होगा या पुत्री इसका पता एक अन्य तरीके से भी लगाया जाता है जिसके अनुसार अगर महिला को सपने में अमरुद दिया गया तो उसकी गर्भ से पुत्र जन्म लेगा वहीँ अगर उसे सपने में भिन्डी मिलती है तो पुत्री का जन्म होगा.

अगर ना मिले आशीर्वाद तो :

कुछ महिलाए ऐसी भी होती है जिनके मन में द्वेष होता है, ऐसी महिलाओं को माता सपने में कोई आशीर्वाद नहीं देती. लेकिन अगर वे फिर भी उस मंदिर में रूकती है तो उनके शरीर के अंगों पर लाल लाल रंग के दाने उभरने लगते है, जिनमे उन्हें बहुत खुजली का अनुभव होता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here