वास्तु के अनुसार बाथरूम के अंदर भूलकर भी ना करे ये काम, होता हैं बड़ा अपशगुन

दोस्तों घर की बाथरूम वो जगह हैं जिसका उपयोग घर के सभी सदस्य करते हैं. आपको जान हैरानी होगी लेकिन घर के बाकी वास्तु के साथ साथ बाथरूम का वास्तु भी बहुत मायने रखता हैं. जब भी लोग घर बनवाते हैं तो बाकी जगह वास्तु का ध्यान रख लेते हैं लेकिन बाथरूम में वास्तु पर इतना जोर नहीं देते हैं. लेकिन हम आपको बता दे कि बाथरूम का वास्तु भी काफी मायने रखता हैं. आपकी बाथरूम किस दिशा में और किस तरह बनी हैं सिर्फ यही चीजें महत्त्वपूर्ण नहीं होती बल्कि आप बाथरूम के अंदर क्या काम करते हो और किस तरह से काम करते हो ये भी प्रभाव डालता हैं. Vastu Tips For Bathroom

एक अच्छा वास्तु घर में सकारात्मक उर्जा फैलाता हैं जो आपकी और घर की तरक्की के लिए अच्छा होता हैं. वहीँ एक खराब वास्तु घर में नकारात्मक उर्जा लाता हैं जो घर में बर्बादी ही बर्बादी करता हैं. ऐसे में आज के आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे कामो के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें आपको बाथरूम के अंदर भूलकर भी नहीं करना चाहिए.

1. टूटी बाल्टी में नहाना:

कई लोगो की बाथरूम में बाल्टी के टूट जाने के बाद भी उसे फेका नहीं जाता हैं. यदि आपके यहाँ भी ऐसा होता हैं तो आज ही संभल जाए. टूटी बाल्टी में पानी डाल नहाने से नेगेटिव एनर्जी उत्पन्न होती हैं. ऐसे में जो व्यक्ति इस पानी से स्नान करता हैं उसके अन्दर भी नकारत्मक उर्जा वास कर जाती हैं. ऐसे में आदमी काफी चिडचिडा और गुस्से वाला बन जाता हैं. उसके द्वारा लिए सारे निर्णय गलत होते हैं और सभी काम बिगड़ने लगते हैं. इसलिए वास्तु के अनुसार कभी भी टूटी बाल्टी से नहीं नहाना चाहिए. यही बात टूटे हुए मग्गे पर भी लागु होती हैं.

2. गंदी बाथरूम का इस्तेमाल:

बाथरूम की समय समय पर साफ़ सफाई होते रहना बेहद जरूरी होता हैं. एक गंदी बाथरूम का इस्तेमाल ना सिर्फ स्वास्थ की दृष्टि से बुरा होता है बल्कि वास्तु के हिसाब से भी इसे गलत माना गया हैं. जिस बाथरूम में मकड़ी के जाले लटक रहे हो, हरी काई जम गई हो या गंदी जमा हो उसका इस्तेमाल करना पुरे घर के वास्तु के लिए हानिकारक होता हैं. ऐसी जगह पर सबसे अधिक नेगेटिव एनर्जी उत्पन्न होती हैं जो धीरे धीरे कर पूरे घर को और सभी सदस्यों को प्रभावित करती हैं. इसलिए आप अपनी बाथरूम को हमेशा साफ़ सुथरा ही रखे.

3. टूटी कुण्डी या दरवाजे वाली बाथरूम का उपयोग:

बाथरूम की कुण्डी या दरवाजे का टूटा होना भी वास्तु के अनुसार अशुभ माना जाता हैं. यदि आपके दरवाजे में बड़ी सी दरार हैं या वो ठीक से लगा नहीं हैं और कहीं से टूटा हैं तो आपको उसे तुरंत बदल देना चाहिए या ठीक करवा लेना चाहिए. बाथरूम के दरवाजे या कुण्डी का टूटा होना घर में दरिद्रता लाता हैं. चूंकि हम बाथरूम में अपनी सभी गन्दगी को त्यागते हैं इसलिए उसके अन्दर की नकारात्मक उर्जा को रोकने का काम भी ये बाथरूम में लगा दरवाजा करता हैं. दरवाजा टूटा होगा तो बाथरूम की ये नेगेटिव एनर्जी सदा आपके घर के अन्य हिस्सों में भी फैलती जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *