सालों से बिकने वाला रूह अफजा आखिर क्यों मार्केट से हुआ गायब

गर्मियों अब आ चुकी हैं और अभी से कई शहरों में पारा 40 तक पहुंचने लगा है। ऐसे में गर्मियों से राहत पाने के इंतजाम लोगों ने शुरू कर दिए हैं। लेकिन गर्मियों में हर घर में रहने वाला मशहूर कोल्ड ड्रिंक रूह अफज़ा बाजार से गायब हो गया है. जी हां, दरअसल बाजार की अटकलों की मानें तो इसे बनाने वाली कंपनी हमदर्द के मालिकों के बीच अनबन की वजह से रूह अफज़ा के प्रोडक्शन पर असर पड़ा है. हालांकि कंपनी का इस विषय पर कुछ और ही कहना है. Why Roohafza not available in market

हालांकि कंपनी का कुछ और ही कहना है. वर्षों से रूह अफज़ा गर्मियों में हमारा पसंदीदा पेय रहा है. मगर इस बार जब लोग बाजार में रूह अफज़ा खरीदने पहुंच रहे हैं तो उन्हें खाली हाथ वापस आना पड़ रहा है. खुद दुकानदार रूह अफज़ा के स्टॉक पर कंपनी की तरफ से ही नहीं आ पाने की बात मान रहे हैं.

गर्मियों में हर घर हर परिवार की पसंद ‘रूह अफजा’ इस बार बाजार से गायब है. वर्षों से गर्मी की शुरुआत होते ही टेलीविजन से लेकर तमाम माध्यमों से रूह अफजा का विज्ञापन दिखने लगता था. लेकिन इस बार गर्मी दस्तक दे चुकी है और रूह अफजा की कहीं कोई खबर नहीं है. दरअसल रूह अफजा का यह मशहूर विज्ञापन आपको याद ही होगा, ‘जरा घुलके… जरा मिलके…, ये है इंडिया मेरी जान, जिंदगी का टेस्ट बदलता है, जब इंडिया घुलता-मिलता है. रूह अफजा घुलके जियो’. लेकिन इस बार न तो विज्ञापन दिख रहा है और न ही घर-घर की पसंद रूह अफजा उपलब्ध है.

नहीं मिल रहा रूह-अफजा –

दरअसल बीते कई सालों से रूह अफज़ा गर्मियों में हमारा पसंदीदा पेय रहा है. मगर इस बार जब लोग बाजार में रूह अफज़ा खरीदने पहुंच रहे हैं तो उन्हें निराशा हाथ लग रही है. खुद दुकानदार रूह अफज़ा के स्टॉक पर कंपनी की तरफ से ही नहीं आ पाने की बात मान रहे हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वर्ष 1906 में हकीम हाफिज अब्दुल माजिद ने रूह अफज़ा का उत्पादन शुरू किया था. अब इसकी कमान उनके पोतों के हाथ में है. भारत के अलावा पाकिस्तान और बांग्लादेश भी काफी लोकप्रिय है रूह अफज़ा.

बंद हुई सप्लाई-

दुकानों,मॉल और सुपरमार्केट में रूह-अफजा नहीं मिल रहा है. इस पर रिटेलर का कहना है कि इस साल रूह-अफजा की इस साल की शुरुआत में ही सप्लाई बंद हो गई.लेकिन उस समय सर्दियों का मौसम था इसलिए इस बात पर किसी ने भी गौर नहीं किया. लेकिन अब मांग बढ़ने पर भी रूह-अफजा की सप्लाई न होने पर लगता है कि कंपनी में कुछ गड़बड़ है.

ये है रूह-अफजा के न मिलने का कारण-

रूह-अफजा के इस तरह बाजार से गायब होने से बाजार में अटकलें हैं कि इसे बनाने वाली कंपनी हमदर्द के मालिकों के बीच अनबन की वजह से प्रोडक्शन पर असर पड़ा है. हालांकि अभी तक कंपनी ने इन अटकलों पर कुछ नहीं कहा है. दरअसल खबर ये आ रही थी कि संपत्ति विवाद की वजह से रूह अफज़ा का प्रोडक्शन रूक गया है. हालांकि कंपनी के प्रवक्ता का कहना है कि प्रोडक्शन किसी और वजह से बंद करना पड़ा और यह जल्द ही फिर से शुरू हो जाएगा.

वैसे आपको बता दें कि बाजार में रूहआफजा के विकल्प भी अब मौजूद हैं। इन विकल्पों के रूप में का शर्बते आजम और पतंजलि का गुलाब शर्बत भी है जिन्हें इस कमी से फायदा हो सकता है. अब देखने वाली बात होगी कि रूह अफज़ा बाजार में कब तक वापस आएगा.

Share

Recent Posts