पूर्वजों की तस्वीर घर में कहां लगाना होता है शुभ और अशुभ

0
907

हेल्लो दोस्तों जब हमारे परिवार का कोई सदस्य हमें छोड़ कर चला जाता है तो अक्सर हम अपने घर में उनकी याद में एक तस्वीर लगाते है, उनकी यह तस्वीर हमें उनकी याद दिलाती रहती है. वास्तु शास्त्र में परिवार के मृतजनो की तस्वीर को दीवार पर लगाने को लेकर कुछ निर्देश दिए गए है जिनके अनुसार उनकी तस्वीरों को उचित स्थान पर ही लगाना चाहिए| Yahan Lagayen Purvajo ki Tasveer

गलत स्थान पर चित्र लगाने का बुरा असर होता है। अत: अपने मृतकों या पूर्वजों के चित्र आप उचित‍ स्थान पर ही लगाएं.

हिन्दुओं में मृत पूर्वज और परिजनों को पितर कहते हैं। पितरों के पूजन का भी विधान है। लिहाजा लोग घरों-ऑफिसों में मृत परिजनों की तस्वीरें लगाकर पूजा करते हैं। पितरों को देवतुल्य ही माना गया है, लेकिन ये दोनों ही अलग-अलग तरीके से पूज्य हैं।

ये भी पढ़ें : पितृ इस तरह से देते है संकेत की वे आप पर प्रसन्न है या नाराज

दोनों की दैवीय ऊर्जा और शक्ति अलग-अलग है। यही वजह है कि लोग इनको अलग-अलग पूजते हैं। लेकिन कुछ लोग देव और पितरों को साथ रखकर पूजा करते हैं, जो अशुभ होता है। , आइये जानते है वास्तु शास्त्र में इसे लेकर क्या निर्देश दिए गए है |

यहाँ ना लगाएं मृतजनो की तस्वीर :

# कभी भी मृत व्यक्तियों की तस्वीर देवी देवताओ के साथ ना लगाए क्योकि भगवान का स्थान पित्तरो से ऊँचा होता है, ऐसा करना देवदोष कहलाता है |

# पूर्वजो की तस्वीर ब्रह्म स्थान पर कभी ना लगाए इससे मान सम्मान में हानि होती है साथ ही उनकी तस्वीरों को पश्चिम या दक्षिण दिशा में लगाने से सम्पति में हानि होने के आसार बढ़ जाते है |

Yahan Lagayen Purvajo ki Tasveer
Yahan Lagayen Purvajo ki Tasveer

# मृत व्यक्तिओ की तस्वीर घर में एक ही स्थान पर लगाए जगह जगह उनकी तस्वीर लगाना घर में तनाव बढ़ाता है | पितरों की तस्वीर घर में सभी जगह नहीं लगाना चाहिए। इसे शुभ नहीं माना जाता है। इससे तनाव बना रहता है।

# ऐसा माना जाता है की मृत व्यक्तियों की तस्वीर जीवित व्यक्तियों के साथ लगाने से नकारात्मकता फैलती है |

# पूर्वजो की तस्वीर को बैडरूम और किचन में नहीं लगाना चाहिए इससे पूर्वजो का अपमान होता है और तनाव बढ़ता है |

ये भी पढ़िए : भूलकर भी इन 6 तस्वीरों को ना रखें घर में, आती है गरीबी और दुर्भाग्य

यहाँ लगाए मृतजनो की तस्वीर :

# वास्तु के अनुसार घर में पूजाघर यदि ईशान कोण में है तो मृतकों की तस्वीर पूर्व दिशा में लगाई जानी चाहिए, और यदि पूर्व में पूजाघर है तो उनकी तस्वीर ईशान कोण में लगाए और यदि पूजाघर के अलावा किसी और कमरे में तस्वीर लगाना चाहते है तो उत्तर दिशा की दीवार पर उनकी तस्वीर लगाए जिससे की पूर्वर्जों का चेहरा दक्षिण की ओर रहेगा। |

# हालांकि हम आपको यहां सलाह देना चाहेंगे कि आप अपने पूर्वर्जों की तस्वीर घर की दक्षिण दीवार पर कोने में लगाएं। अगर दक्षिण नहीं मिल पा रहा है तो आप पश्‍चिम के कोने में लगा सकते हैं।

# पूर्वजो की तस्वीर घर के एक ही स्थान पर लगाए जहां किसी प्रकार का दोष ना हो | यह भी कहा जाता है कि कभी भी मृत लोगों की तस्वीर जीवित लोगों के साथ ना लगाएं इससे नकारात्मकता फैलती है।

Yahan Lagayen Purvajo ki Tasveer
Yahan Lagayen Purvajo ki Tasveer

# तस्वीर लगाते समय इस बात का ध्यान रखे की तस्वीर लटकती हुयी नज़र ना आये इसके लिए तस्वीर के नीचे लकड़ी के गत्ते का बना किसी प्रकार का सहारा लगाए |

# मृतजनो की तस्वीर ऐसी जगह लगाई जानी चाहिए जहां से घर में आने वाले कोई अतिथि या किसी अन्य व्यक्ति की नज़र उस पर ना पड़े और साथ ही आप भी उनकी तस्वीर को बार बार ना देखे, हलाकि ये सत्य है की उनसे हमारी भावनाये जुडी होती है लेकिन इससे मन में निराशा और उदासी बढ़ने लगती है |

ये भी पढ़िए : बेडरूम में अपनाएं ये वास्तु टिप्स, दांपत्य जीवन में बना रहेगा प्यार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here